बीजेपी का नाम लिए बिना ही साधा निशाना,अनावश्यक बयानबाज़ी नहीं करने का इशारा,

बीजेपी का नाम लिए बिना ही साधा निशाना,अनावश्यक बयानबाज़ी नहीं करने का इशारा,
File image

 नई दिल्ली:

दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020 में हार का कारण भाजपा अपने बड़बोले नेताओं को मान रही है, साथ ही भाजपा के  सहयोगी दलों में भी बीजेपी नेताओं की अनावश्यक विवादित बयानबाजी को लेकर काफी खलबली मची हुई है है। वहीं केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने अनावश्यक बयानबाजी ना करने का इशारा भी दे दिया  है।

केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने अनावश्यक बयानबाजी नहीं करने का संकेत दिया है
पासवान ने भाजपा का ज़िक्र किए बिना बिहार चुनाव के दौरान भाषा पर काबू रखने की सलाह दी। साथ ही एक इंटरव्यू के दौरान पासवान ने कहा, बिहार का विधानसभा चुनाव इस साल के अंत में होगा। बिहार चुनाव को स्थानीय विकास के मुद्दे पर लड़ा जाए। क्योंकि तीन तलाक पर प्रतिबंध लगाया जा चुका है, अनुच्छेद-370 खत्म हो चुका है और राम जन्मभूमि विवाद भी हल हो चुके हैं, इसलिए अब स्थानीय मुद्दों पर ध्यान देते हुए राज्य चुनाव स्थानीय मुद्दों पर ही लड़ना चाहिए। उन्होंने साफ तौर पर राष्ट्रीय चुनाव में नरेंद्र मोदी का कोई जोड़ ना होने की बात कही है। साथ ही चुनाव के दौरान होने वाले भाषण में भाषा पर संयम रखने को कहा है। 

 खाद्य व सार्वजनिक वितरण मंत्री पासवान से जब दिल्ली चुनावों के दौरान हुए कुछ भाजपा नेताओं  के उकसाऊ
 बयानों के बारे में पूछा गया तो लोजपा अध्यक्ष चिराग पासवान ने इस पर पार्टी का रुख साफ कर दिया। और अमित शाह ने भी माना है कि हो सकता है यह प्रतिकूल रहा हो।